Hamare Tayohar Aur Mele

Hamare Tayohar Aur Mele

रंगारंग उत्सवों की रंगीनी, उमंगऋ

पवित्रा त्योहारों की आस्था, आनन्दऋ

विभिन्न मेलों की मस्ती, आकर्षणऋ

सबको सजाये हमारे त्योहार और मेले!

त्योहार और मेले प्राचीन भारतीय संस्कृति की ध्रोहर हैं और भारतीय समाज के प्राण हैं। इनमें उत्साह होता है, आस्था होती है और लगाव रहता है। इनमें होता है: उमंग, स्पूफर्ति और आनन्द। साथ में होती है: गति, तृप्ति और शांति। इन सबको इस पुस्तक ‘हमारे त्योहार और मेले’ में संजोया और परोसा गया है। इसे पढ़कर ये सब पाये जा सकते हैं। 

त्योहार और मेलों से संस्कार बढ़ता है और शक्ति प्राप्त होती है। सुस्ती समाप्त होती है, चुस्ती बढ़ जाती है, उत्तेजना और उल्लास रहता है और साथ ही संतोष मिलता है, विश्वास बढ़ता है और सद्भाव विकसित होता है। परितृप्ति और आनन्द के उन अपूर्व क्षणों को ‘हमारे त्योहार और मेले’ में संचित ही नहीं किया गया है, जीवंत भी रखा गया है। 

प्रकृति हमें जीवन भी देती है और पोषण भी करती है। प्राकृतिक संपत्ति को दुरुपयोग से बचाने हेतु भारत में निश्चित तिथियों पर विशेष त्योहार और आकर्षक मेले लगाये जाते हैं। ये मिलन-स्थान और मिलन-क्षण तो होते ही हैं, आवश्यक वस्तुओं का अध्किाध्कि वितरण और व्यवसाय भी हो जाता है। उनकी विशेषता और आकर्षण का सम्पूर्ण दिग्दर्शन ‘हमारे त्योहार और मेले’ में होता है: शब्द-चित्रों में देखें और ज्ञान-रूप में अपनायें। भाव विह्नल हों और आनन्द-मग्न भी हो जाएं। 

‘हमारे त्योहार और मेले’ के माध्यम से सोनपुर के मेले से पुष्कर सरोवर तक सुस्नान करें, अक्षय नवमी को आंवला के नीचे या गोवर्धन हेतु धर्मिक अनुष्ठान करेंऋ वैशाखी, पोंगल और मकर संक्राति में सामाजिक व्यवहार करें, या विशु-बिहू में नृत्यरत हो जाएं या परम्परा का अनुशरण करते हुए जीव-जन्तुओं और पेड़-पौधें के पूजन में लग जाएंऋ हर जगह, हर समय प्रसाद के रूप में प्रसन्नता प्राप्त होगी।


Write a review

Note: HTML is not translated!
    Bad           Good

Super Fast Shipping

Pustak Mahal will Provide Super Fast Shipping

  • Views: 36
  • Author: Pustak Mahal
  • Product Code: 9524 D
  • Availability: In Stock
0 Product(s) Sold
  • INR 150.00
  • Ex Tax: INR 150.00

Tags: Hamare Tayohar Aur Mele